जालंधर : रोजाना पैसे कमाने के चक्कर में डाउनलोड की App, सच पता चला तो उड़ गए होश

25
0

जालंधर : साइबर ठगों द्वारा आए दिन नए-नए तरीके निकाल लोगों को ठगा जा रहा है। ऐसा ही एक मामला जालंधर से सामने आया है जहां ऐप डाउनलोड कर रोजाना पैसा कार झांसा देकर युवक को ठगी का शिकार बनाया गया है। जानकारी मुताबिक ऐप डाउनलोड कर एक बार पैसे निवेश करने के झांसे में आकर जालंधर के एक व्यक्ति ने 1.26 लाख रुपए गंवा दिए। इस धोखाधड़ी की शिकायत पुलिस को देने के बाद साइबर क्राइम की जांच के बाद थाना नंबर 1 में जय श्याम एडवरटाइजिंग एंड प्रोपेगेशन और कुलविंदर समेत श्रीगंगानगर, राजस्थान की एक अन्य फर्म के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस को दी शिकायत में पीड़ित गगनदीप कुमार पुत्र हरीश कुमार निवासी न्यू रविदास नगर मकसूदा ने बताया कि उसने एक विज्ञापन देखकर प्ले स्टोर से ‘द वाइन ग्रुप’ नाम का ऐप डाउनलोड किया था। उन्होंने उस ऐप में अपना बैंक अकाउंट अटैच कर लिया। ऐप में दावा किया गया था कि एक बार पैसा लगाने के बाद उन्हें हर दिन पैसे मिलेगे। ऐसे में गगनदीप कुमार ने ऑनलाइन ऐप में 80,818 रुपए ट्रांसफर कर दिए। आरोप है कि 3 दिन तक लगातार पैसे मिले लेकिन चौथी बार पैसे नहीं आए।

जब उन्होंने उक्त कंपनी से संपर्क किया तो उन्होंने कहा कि लिंक बढ़ने पर उन्हें पैसा मिलना शुरू हो जाएगा। ऐसे में गगनदीप कुमार ने अपनी पत्नी का बैंक अकाउंट अटैच कर लिया और 3 किस्तों में 45,800 रुपए ट्रांसफर कर दिए। पैसे भेजने के बाद फिर पैसे आने शुरू हो गए लेकिन 2 दिन बाद पैसे फिर आना बंद हो गए। दोबारा संपर्क करने पर वे और लोगों को शामिल होने के लिए कहने लगे और कहा कि अगर लोग शामिल नहीं होंगे तो उनका पैसा वापस नहीं किया जाएगा।

इस बाद गगनदीप कुमार को शक हुआ तो उसने इस संबंध में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। मामले की जांच के बाद साइबर सेल ने थाना नंबर 1 में जय श्याम एडवरटाइजिंग एंड प्रोपेगेशन और श्रीगंगानगर निवासी कुलविंदर व एक अन्य अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया। जिस खाते में पैसे ट्रांसफर किए गए वह इसी कंपनी के नाम पर था। पुलिस आरोपियों की पहचान करने में जुटी हुई है।