Lok Sabha Elections: व्यय मॉनिटर ने MCMC का किया दौरा, अधिकारियों व मैंबरों को दिए सख्त निर्देश

16
0

जालंधर: भारत चुनाव आयोग की ओर से 04-जालंधर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र (अ.ज.) के लिए नियुक्त व्यय मॉनिटर 2009 बैच के आई.आर.एस. अधिकारी माधव देशमुख ने आज मीडिया सर्टिफिकेशन एंड मॉनिटर सेल (एम.सी.एम.सी.) का दौरा किया और अधिकारियों और सदस्यों को सोशल मीडिया, पेड न्यूज और विज्ञापनों पर कड़ी नजर रखने के निर्देश दिए।

व्यय मॉनिटर ने एडिशनल कमिश्नर नगर निगम-कम-नोडल अधिकारी जिला व्यय मॉनिटरिंग सेल अमरजीत सिंह के साथ यहां जिला प्रबंधकीय कॉम्प्लेक्स के कमरा नं. 14 ए में स्थापित  एम.सी.एम.सी. के अधिकारियों के साथ बातचीत करते लोकसभा चुनाव लड़ने वाली राजनीतिक पार्टियों/उम्मीदवारों द्वारा  सोशल मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, प्रिंट मीडिया के माध्यम से किये जा रहे प्रचार, विज्ञापन, पेड न्यूज, कंटेंट संबंधित विभिन्न स्वीकृतियों के संबंध में जानकारी प्राप्त की।

उन्होंने सेल के अधिकारियों एवं कर्मचारियों से कहा कि समाचार पत्रों, रेडियो, टी.वी., सोशल मीडिया पर कड़ी नजर रखें और यदि किसी उम्मीदवार का कोई विज्ञापन/पेड न्यूज मिलती है तो उसे उसके चुनाव खर्च में शामिल करने की तुरंत कार्रवाई अमल में लाई जाए।  उन्होंने आगे बताया कि इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, जिसमें ई-पेपर व सोशल मीडिया भी शामिल है, में  विज्ञापन देने के लिए एम.सी.एम.सी. से मंजूरी लेनी जरूरी है। कमेटी इसके कंटेंट को पढ़ने के अलावा विज्ञापन बनाने और लगाने पर होने वाले खर्च की जानकारी लेकर इसकी अनुमति देगी।

जिला जनसंपर्क पदाधिकारी-कम-सदस्य सचिव एम.सी.एम.सी. सुबेग सिंह ने व्यय मॉनिटर को जानकारी देते बताया कि जिला चुनाव पदाधिकारी-कम-डिप्टी कमिश्नर डॉ. हिमांशु अग्रवाल के नेतृत्व में गठित एम.सी.एम.सी. द्वारा चुनाव आचार संहिता की उल्लंघना के बाद  राजनीतिक दल/उम्मीदवारों द्वारा प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया के माध्यम से किये जा रहे प्रचार-प्रसार और विज्ञापन संबंधी खबरों पर 24 घंटे नजर रखी जा रही है। इस काम के लिए 40 कर्मचारियों को तैनात किया गया है, जो तीन शिफ्टों में अपनी ड्यूटी कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि एम.सी.एम.सी. सेल द्वारा कंटेंट संबंधी अब तक 13 स्वीकृतियां प्रदान की गई हैं।