छावनी में तब्दील हुआ Jalandhar का ये इलाका, बड़ी संख्या में पहुंची पुलिस

42
0

जालंधर :  मुख्यमंत्री पंजाब भगवंत सिंह मान तथा डी.जी.पी. पंजाब गौरव यादव ने असामाजिक तत्वों तथा नशा बेचने वाले तस्करों के खिलाफ मुहिम छेड़ रखी है। इस मुहिम मेंं प्रत्येक नशा तस्कर पुलिस की राडार पर है तथा आम आदमी पार्टी की सरकार ने प्रण ले रखा है कि वे पंजाब से नशा बिल्कुल खत्म कर देंगे। इसी के तहत CASO आप्रेशन के दौरान आज पुलिस कमिश्नर स्वपन शर्मा के नेतृत्व में कांजी मंडी को छावनी में तब्दील कर नशा तस्करों के घरों में  छापेमारी की ।

इस दौरान पुलिस ने 2 लोगों को भारी मात्रा में हेरोइन सहित गिरफ्तार किया है, जिनकी पहचान धरमिंदर कुमार और रोहित कुमार के रूप में हुई है।  वहीं SHO रामा मंडी गुरप्रीत सिंह का कहना है कि   ADGP ट्रैफिक पंजाब AS राय के नेतृत्व में “ऑपरेशन ईगल” नामक एक अत्यधिक प्रभावी CASO ऑपरेशन चलाया गया था, जिसमें जिले के काजी मंडी के ड्रग हॉटस्पॉट को निशाना बनाने के लिए 17 टीमों में 300 से अधिक पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया था।

बता दें कि गत दिवस मकसूदां के एस.एच.ओ. बिक्रम सिंह ने पुलिस पार्टियों को साथ लेकर देहात के विभिन्न गांवों नंगल सलेमपुर, जमालपुर कालोनी, नूरपुर, भूत कालोनी में विभिन्न नशा तस्करों के घर कासो के तहत छापेमारी की थी। इस छापेमारी में फिलहाल पुलिस को कोई भी आपत्तिजनक वस्तु नहीं मिली थी। एस.एच.ओ. बिक्रम सिंह ने कहा कि नशे को खत्म करने के लिए चलाई जा रही मुहिम के तहत प्रत्येक नशा बेचने वाले तस्करों पर उनकी पैनी नजर है तथा आगे भी पुलिस की छापेमारी जारी रहेगी।

PunjabKesari

उन्होंने कहा कि वे इलाके में किसी भी प्रकार का नशा नहीं बिकने देंगे तथा अगर किसी के बारे में उन्हें पता चला तो वे सलाखों के पीछे होंगे।  इलाके में पुलिस की गश्त को बढ़ा दिया गया है तथा वाहनों की चैकिंग भी की जा रही है। उन्होंने कहा कि इलाकानिवासी किसी नशा तस्कर के बारे में सूचना देना चाहते हों तो वे बेझिझक होकर उनको फोन कर सकते हैं या मिल सकते हैं। सूचना देने वाले की पहचान को गुप्त रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि पब्लिक को इन असामाजिक तत्वों तथा नशा तस्करों की सूचना पुलिस को देनी चाहिए ताकि नशे को जड़ से खत्म किया जा सके।