उड़ीं कोड ऑफ कंडक्ट की धज्जियां! सरेआम चली गोलियां

25
0

फिल्लौर : कोड ऑफ कंडक्ट की धज्जियां उड़ाते हुए 2 पक्षों में हुए झगड़े के दौरान 2-3 गोलियां चलाई गई, दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर जम कर ईंट-पत्थर चलाए। इससे घरों के बााहर खड़ी पूर्व पार्षद की गाड़ी के शीशे टूट गए। पुलिस ने कहा कि कानून तोड़ने वालों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। पुलिस ने सिर्फ एक घंटे में ही अवैध हथियार से गोलियां चलाने आरोपी की पहचान कर उन्हें पकड़ने के लिए पुलिस टीमों का गठन करके छापेमारी शुरू कर दी।

मोहल्ला ऊंची घाटी देवी मंदिर के पास रहने वाले मनी और किरन ने बताया कि दोपहर 12 बजे के करीब पास के मोहल्ले का रहने वाला विजय, उसका बेटा फजल अपने 15-20 साथियों के साथ उनके मोहल्ले में आए। जिन्होंने पहले उनके घरों पर हमला करते हुए ईंट-पत्थर चलाने शुरू कर दिए। जब एक महिला ने समझाने की कोशिश की तो विजय ने उसे थप्पड़ मारे। हमलावरों द्वारा चलाए ईंट-पत्थरों से घर के बाहर खड़ी पूर्व पार्षद की गाड़ी के भी शीशे टूट गए। जैसे ही हमलावरों ने महिला पर हाथ उठाया, उस समय एक लड़के ने अवैध पिस्तौर निकाल कर 3 गोलियां चलाई। इसके बाद हमलावरों पहले थोड़ा पीछे हटे। इस दौरान भीड़ से फिर एक गोली की आवाज आई जिसके बाद हमलावरों ने फिर तेजी से हमला कर दिया। पूरे मोहल्ले में हर ओर ईंट-पत्थर पड़े हुए थे। मोहल्ला निवासियों का आरोप है कि विजय और उसके साथी उन्हें चैन से जीने नहीं दे रहे। कोई न कोई बहाना कर उनके घरों पर हमला कर नुक्सान करते हैं।

दूसरे पक्ष की महिला पासो और तानियां ने बताया कि दोपहर 12 बजे उनका लड़का फजल जब देवी मंदिर के पास से गुजरा तो वहां खड़े लड़कों ने उन्हें घेर लिया। वह किसी तरह उनके हाथों से छूट कर घर पहुंचा, जिस पर विजय अपने कुछ साथियों के साथ जब पहुंच गया तो उन्होंने विजय पर हमला कर दिया। एक लड़के ने उन पर गोलियां चला दी। घटना की सूचना मिलते ही इंस्पेक्टर बिटन कुमार भारी पुलिस बल के साथ वहां पहुंच गए। बिटन कुमार ने कहा कि कानून तोड़ने वालों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। पुलिस ने एक घंटे में सी.सी.टी.वी कैमरों की मदद से अवैध हथियारों से फायरिंग करने वाले लड़कों की पहचान कर उन्हें पकड़ने के लिए पुलिस टीमों का गठक कर छापेमारी शुरू कर दी। सूत्रों से यह भी पता लगा है कि पुलिस के दबाव के कारण लड़ने सरेंडर करने के लिए तैयार रो रहे हैं।