CIA स्टाफ जालंधर ने खतरनाक गैंगस्टर किया गिरफ्तार, हुए बड़े खुलासे

31
0

जालंधर : ईरादा-ए-कत्ल के मुक्दमें में फरार चल रहे कुख्यात गैंगस्टर विजय मसीह जिस पर दो दर्जन के करीब हथियार और नशा तस्करी के मुक्दमे दर्ज है को गत दिन सी.आई.ए. स्टाफ जालंधर देहाती के प्रभारी इंस्पेक्टर पुष्प बाली ने पुलिस कप्तान इन्वेस्टिगेशन जसरूप कौर के नेतृत्व में तेहिंग चुंगी के नजदीक से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। उक्त गैंगस्टर फरार होने के बाद अपने गैंग के लड़कों के साथ लोगों को जान से मारने की धमकीयां देकर शहर और आसपास के गांवों में दहश्त का माहौल बनाया हुआ था।

पत्रकारों को जानकारी देते हुए एस.एस.पी. जालंधर देहाती अंकुर गुप्ता ने बताया कि फिल्लौर के मोहल्ला उंची घाटी का रहने वाला कुख्यात गैंगस्टर विजय मसीह पुत्र जोजी मसीह ने डेढ़ महीना पहले अपनी गैंग के 10-12 साथियों के साथ मिल कर अनीश पुत्र मनी को मारने के ईरादे से अवैध पिस्तौल के साथ गोलीयां चलाई थी। इस पर फिल्लौर पुलिस ने विजय मसीह और उनके साथीयों के पर ईरादा-ए-कत्ल का मुक्दमा दर्ज किया हुआ था। इसके बाद से यह गैंग फरार चल रहा था।

उन्होंने बताया कि गैंगस्टर विजय ने फरार होने के दौरान अपने गैंग की सरगर्मियां और तेज कर दी। आए दिन लोगों पर दहश्त डालने के लिए यह उन्हें जान से मारने की धमकीयां देता था। दो सप्ताह पहले ही इसने दो पुर्व पार्शद रणजीत और सुरिंदर डाबर को भी मारने की धमकी दी थी। उक्त गैंग की आए दिन उनके पास शिकायतें पहुंच रही थी।

इस गैंग और इसके सरगनां को काबू करने के लिए विशेषतौर पर आई.पी.एस. जसबीर कौर बाठ उप पुलिस कप्तान इन्वेस्टिगेशन लखबीर सिंह के नेतृत्व में सी.आई.ए. जालंधर के प्रभारी इंस्पेक्टर पुष्प बाली की एक विशेष टीम तैयार की जो लगातार इस गैंग को पकड़ने के लिए इनके पीछे लगी हुई थी। इंस्पेक्टर बाली को सुचनां मिली की गैंगस्टर विजय तेहिंग चुंगी के नजदीक से गुजरने वाला है उन्होंने अपनी पुलिस पार्टी के साथ जाल बिछा कर विजय मसीह को काबू कर लिया जिसे अदालत में पेश कर दो दिन के रिमांड पर लिया गया है।