पंजाब की सभी सीटों के संसदीय चुनाव में क्या मिल कर चुनाव लड़ रहे कांग्रेस और आम आदमी पार्टी

27
0

पंजाब की सभी सीटों के संसदीय चुनाव में क्या मिल कर चुनाव लड़ रहे कांग्रेस और आम आदमी पार्टी

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री स चरणजीत सिंह चन्नी जालंधर से कांग्रेस के उम्मीदवार हैं, श्री पवन टीनू जी आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार हैं। ऐसा सुना जा रहा है कि कांग्रेस और आम आदमी पार्टी पंजाब की सभी सीटों को जीत और हार में बांट लिया गया है। पहले तो कुछ सीटों पर दोनों पार्टियों ने एक दूसरे के खिलाफ कुछ कमज़ोर उम्मीदवार उतारे और फिर अपने अपने पार्टी कैडर को थोड़ा स्लो कर दिया। इसी कड़ी में ऐसा लग रहा है कुछ सुनी सुनाई चर्चा भी है कि जालंधर की सीट पर कांग्रेस को जिताने का मन शायद आम आदमी पार्टी के लोगों ने भी बना रखा है। देखने में आ रहा है कि आप के सभी नेता एक ओपचारिकता दिखा रहे हैं। कोई भी दिल से काम नहीं करता लग रहा। यहाँ हम यह साफ करदें कि यह बातें हम अपनी पत्रकारिता के बूते आपके सामने रख रहे हैं। हम किसी विशेष पार्टी या व्यक्ति का समर्थन नहीं करते। सरकारी तन्त्र भी दबी जुबान में कुछ इसी प्रकार की बातों पर चर्चा कर रहा। कोई पक्का साक्ष्य तो नहीं है पर एक आभास हो रहा है। भाजपा और अकाली दल तो शायद तीसरे और चौथे स्थान की लड़ाई लड़ रहे हैं और उनकी तैयारी तो पंजाब के 2027 के विधान सभा चुनाव की है।
बाकी टीनू एक बहुत बढ़िया वर्कर टाईप नेता हैं और उन्हें सरकारी कार्यों का अनुभव भी है, वो जमीनी कार्यकर्ता हैं।लेकिन लोगो तक अभी पहुँच नहीं पा रहे। वैसे सांसद का चुनाव आमतौर पर पार्टी के वर्कर ही लड़ते हैं और उम्मीदवार तो पूरे हल्के में लोगों से मिल भी नहीं पाता।इसी तरह पंजाब की कयी और भी सीटों पर स्थिति लगभग ऐसी ही है, कहीं कांग्रेस के नेता और वर्कर एक्टिव नहीं हैं तो कहीं आप के। आप और कांग्रेस के नेता भी एक दूसरे के खिलाफ बोलने से बचते नज़र आ रहे हैं।उनका निशाना तो प्रधानमंत्री मोदी जी हैं, इसलिए ऐसा आकलन है कि शायद यह चुनाव मिल कर लड़ा जा रहा है। पंजाब में भाजपा तो जीत की दौड़ में है भी नहीं।

अगर सुनी सुनाई बातों पर यकीन करें तो आने वाले समय में चुनाव के दौरान पार्टियों का रवैया हमारे अनुमान को शायद और बल दे।
चाहिए तो यह कि सभी पार्टियां अपने कामों की जानकारी लोगों को दें और गरीबों, मजदूरों, किसानों, दुकानदारों और व्यापारियों के हितैषी और लोकप्रिय नेता बन कर जनता की सेवा करें। उद्योग जगत को समस्याओं से छुटकारा दिलाने का रोडमैप पेश करें। हम जनता से भी आग्रह करते हैं कि वे भी अपना समर्थन उन नेताओं को दें जिन्होंने हमेशा पंजाब, पंजाबियत और पंजाब के पानी और पंजाब के युवाओं और किसानों को बचाने के लिए लड़ाई लड़ी है। हमें देश के संविधान और लोकतंत्र को मजबूत करना चाहिए और वोट के अधिकार का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए। हम अपने चैनल से किसी पार्टी का समर्थन नहीं करते।