जालंधर के प्रसिद्ध मंदिर में वारदात, घटना CCTV में कैद

65
0

जालंधर : श्री शिवशक्ति मां बगलामुखी मंदिर, दिलबाग नगर एक्सटैंशन में शाम 4.13 पर दाखिल हुए चोर ने 5 मिनट में 4 लाख रुपए की नकदी व 6 लाख के गहनों पर हाथ साफ कर दिया। मंदिर के पुजारी व प्रबंधकों ने चोर को पकड़ने का प्रयास किया, लेकिन वह चकमा देकर भाग गया। पूरा घटनाक्रम सी.सी.टी.वी. में कैद हुआ है।

PunjabKesari

थाना बस्ती बावा खेल की पुलिस ने मौके पर पहुंच मंजर देखा जिस पर जांच की जा रही है। सी.सी.टी.वी. के जरिए ऐसा प्रतित हो रहा है कि चोरी करने वाले को पूरा भेद था, जिसके चलते वह मात्र 5 मिनट में चोरी करने में कामयाब हो गया। चोरी हाइटैक ढंग से हुई है, साफ पता चल रहा है कि चोर को नकदी होने व गहनों के बारे में पता था, जिसके चलते वह सीधा तीसरी मंजिल पर गया और चोरी को अंजाम दिया।

चोरी किए गए सोने के गहनों में लक्ष्मी-नारायण भगवान के गहनें, मां बगलामुखी, दुर्गा माता, कालका माता के श्रृंगार का सामान, माथे का टीका, झुमके इत्यादि शामिल है। इसके अलावा चांदी के गहनों में मां धूमावती का 25 तोले का कमरबंद सहित अन्य गहनों संबंधी बताया गया है।

कैमरे में कैद हुए चोर के बारे जानकारी जुटाने के लिए प्रबंधक कमेटी द्वारा अपने स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। वहीं कुछ दिन पहले मंदिर में हुए जयंती कार्यक्रम की वीडियो निकाली जाएगी, ऐसी संभावना जताई जा रही है कि उक्त चोर का कुछ पता चल सके।

मंदिर के प्रधान प्रवीण कत्याल सोनू ने बताया कि मंगलवार होने के चलते वह मंदिर में रहने वाले बाबा जी के साथ हनुमान जी को चोला चढ़ा रहे थे। इस दौरान चोर ने मंदिर की तीसरी मंजिल पर जाकर सामान चुरा के ले आया। मंदिर में एक महिला ने चोर को देखा और शोर मचाया। इसपर मंदिर के पंडित अखिलेश मिश्रा व मंदिर के बाबा जी चोर के पीछे दौड़े लेकिन चोर उनके हाथ नहीं लग सका। थाना बस्ती बावा खेल के ए.एस.आई. सुरजीत सिंह ने मौके पर आकर बयान दर्ज किए हैं।

7 मिनट तक मोटरसाइकल रखा स्टॉट

चोर जब मंदिर में प्रवेश हुआ तो बाहर उसका मोटरसाइकिल स्टॉट खड़ा था। चोर ने पूरी तैयारी कर रखी थी ताकि वह आसानी से भाग सके। उक्त पुराने मोटरसाइकिल के पीछे मरगाट व पकड़ने वाला स्टैंड भी नहीं लगा था। मोटरसाइकिल को खड़ा करके अंदर आने व तीसरी मंजिल से वापस नीचे आने में चोर को कुल 7 मिनट लगे। इस पूरे समय के दौरान मोटरसाइकिल स्टॉट ही खड़ा रहा।

छैनी बन सकती है चोरी तक पहुंचने का जरिया

उक्त चोर 4.13 पर चोरी करने के लिए मंदिर में दाखिल हुआ जबकि सी.सी.टी.वी. में पता चला है कि इससे पहले उक्त व्यक्ति 4.01 पर भी मंदिर में आया था। इस दौरान उक्त व्यक्ति चोरी करने में सफल नहीं हो पाया जिसके चलते दोबारा आना पड़ा। मंदिर में तीसरी मंजिल पर चोरी वाले स्थान पर एक छैनी बरामद हुई है। उक्त छैनी बिल्कुल नई है, जिसके चलते ऐसा प्रतीत हो रहा है कि वापस जाकर उक्त चोर छैनी लेकर आया होगा। ऐसे में मंदिर कमेटी द्वारा आसपास की हार्डवेयर वाली दुकानों की सी.सी.टी.वी. निकाली जा रही है। मंदिर कमेटी के पदाधिकारियों का कहना है कि छैनी के जरिए चोर तक पहुंचा जा सकता है।