Punjab: शाम ढलते ही शुरू हो जाता है गंदा धंधा, अय्याशी का अड्डा बन जाते हैं ये Hotel

68
0

लुधियाना: महानगरी के बस स्टैंड के नजदीक पढ़ने अधिकतर होटल शाम ढलते ही अय्याशी का अड्डा बन जाते हैं जहां पर होटल संचालकों द्वारा ग्राहकों को ऑन डिमांड शराब कबाब और शबाब परोसने का गंदा खेल खेला जाता है। इस सारे एपिसोड का मजेदार पहलू यह है कि इन बदनाम होटल्स के आगे अंधेरा पड़ते ही दलाल और लड़कियां मंडराने लगती हैं जोकि खरीदारों को अपनी दिलकश अदाएं और नखरे दिखा कर अपनी और आकर्षित करने की कोशिश करती हैं।

 

होटल की रिसैप्शन पर बैठे ठेकेदार भी जिस्म के खरीदारों को मोबाइल फोन पर लड़कियों की फोटो दिखाकर ऑन डिमांड पर शॉर्ट और रात भर का रेट तह कर ग्राहकों के लिए शराब, कबाब और शबाब का प्रबंध करने में जुट जाते हैं। ऐसे में बस स्टैंड के नजदीक और पुल के नीचे पड़ते होटल एम.आर. नामक हाऊस, और एस. ढाबा आदि जो कि कथित तौर पर सैक्स रैकट के गंदे धंधे में लिप्त होने के कारण अक्सर मीडिया में सुर्खियां बटोरते रहते हैं। यहां अधिकतर असली मालिकों ने होटल्स की बिल्डिंगें मैनेजर या ठेकेदार को किराए पर दे रखी है। ऐसे में जब कभी पुलिस द्वारा होटल में छापेमारी कर देह व्यापार का भांडा-फोड़ा जाता है तो इस दौरान संबंधित होटल मालिक बच निकलते हैं। उक्त सभी होटलों के ठीक पीछे जवाहर नगर कैंप के रिहायशी इलाके में धार्मिक स्थल और सरकारी स्कूल सहित करियाना और कपड़े की होलसेल मार्कीट पड़ती है। ऐसे में इलाके के उक्त होटलों में चल रहे देह व्यापार के गंदे धंधे का स्कूली छात्रों इलाका निवासियों और होलसेल मार्कीट में खरीदार करने के लिए आने वाले ग्राहकों की मासिकता पर गहरा असर पड़ता है। इलाकावासियों ने होटल्स में चल रहे सैक्स रैकेट से परेशान होकर गत समय पुलिस प्रशासन के खिलाफ धरना प्रदर्शन भी किया था। इसके बाद हरकत में आए पुलिस अधिकारियों ने कई होटलों में छापेमारियां कर जिस्मफरोशी के धंधे में शामिल कई लड़कियों और होटल संचालकों के खिलाफ मामले दर्ज किए है।

 

 

पुलिस इलाके में लगातार कर रही गश्त

थाना डिवीजन नंबर 5 के एस.एच.ओ. इंस्पैक्टर जगजीत सिंह के साथ जब मामले संबंधी बातचीत की तो उन्होंने दावा किया कि पुलिस कर्मचारियों की टीम विशेष कर रात के समय इलाके में लगातार गश्त कर रही है। उन्होंने खुद बस स्टैंड के नजदीक पड़ते कई होटलों में छापेमारियां कर होटल संचालकों, मैनेजर और लड़कियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करते हुए मामले दर्ज किए हैं।