Jagtar Singh Tara को आज कड़ी सुरक्षा के बीच जालंधर कोर्ट में किया जाएगा पेश

10
0

जालंधर : जगतार सिंह तारा पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या का दोषी करार हैं। मिली जानकारी के मुताबिक, तारा के खिलाफ जालंधर के गोराया थाने में गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम अधिनियम (यूएपीए) और आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज है। तारा उक्त मामले में पेश होगी। जगतार सिंह तारा के वकील केएस हुंदल ने कहा कि कोर्ट ने 2 बजे का समय दिया है। उन्हें कोर्ट में पेश करने से पहले जालंधर पुलिस प्रशासन ने शहर में कड़ी सुरक्षा तैनात कर दी है।

बेअंत सिंह हत्याकांड में दोषी ठहराए गए जगतार सिंह हवारा, परमजीत सिंह भौरा और जगतार सिंह तारा, उनके रसोइये और देव सिंह देवी के साथ हत्याकांड में शामिल थे, लेकिन वे बैरक नंबर 7 में एक गुप्त सुरंग खोदकर जेल से भाग गए थे। वर्ष 2004 में जनवरी माह में रात के समय वे तीनों फरार हो गए। आरोपियों ने टॉयलेट सीट उखाड़कर 92 फीट लंबी सुरंग बना दी थी। एक समय में एक ही व्यक्ति जा सकता है। मिट्टी को गिरने से बचाने के लिए आरोपी साथ-साथ पानी से मिट्टी का लेप भी कर देते थे।

उन्होंने बुड़ैल जेल की दीवार तक सुरंग बनाई थी, उसके बाद वे दीवार पर चढ़ते हैं और दीवार फांदते हैं। इसके अलावा उन्होंने नुकसान वाले क्षेत्रों की तरफ सुरंग का मुंह भी खोल दिया। जगतार सिंह तारा ने पहले ही अपनी भतीजी की शादी के लिए पांच घंटे की पैरोल की मांग की थी। रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने पिछले साल कोर्ट में अपील दायर की थी। 3 दिसंबर को सुबह 10 बजे से दोपहर 3 बजे तक पैरोल की मांग की हैं। सारे तथ्य सुनने के बाद कोर्ट ने उन्हें सिर्फ 2 घंटे की पैरोल की इजाजत दी। इसके बाद दोबारा जेल भेज दिया।