चुनाव नतीजों के दौरान मोहाली के 12 उम्मीदवारों की जमानत जब्त, चंदूमाजरा भी शामिल

14
0

मोहाली: मोहाली जिले के तहत 2 लोकसभा सीटों से चुनावी मैदान में उतरे कुछ बड़े नेताओं सहित छोटे दल या आजाद उम्मीदवार के तौर पर चुनावी मैदान में उतरे 12 उम्मीदवार अपनी जमानत वापस नहीं ले सके। श्री आनंदपुर साहिब संसदीय सीट से चुनाव मैदान में उतरे बड़े चेहरे जिनमें शिरोमणि अकाली दल के नेता प्रेम सिंह चंदूमाजरा, बहुजन समाज पार्टी के नेता जसवीर सिंह गढ़ी, शिरोमणि अकाली दल (सिमरनजीत सिंह मान ग्रुप) पार्टी के नेता कौशल पाल सिंह मान अपनी जमानत नहीं बचा सके। ऐसे ही पटियाला सीट से चुनाव लड़ रहे जीरकपुर निवासी शिरोमणि अकाली दल के नेता एन.के. शर्मा, शिरोमणि अकाली दल (सिमरनजीत सिंह मान ग्रुप) पार्टी के नेता मोहिंदर पाल सिंह। बहुजन समाज पार्टी के नेता जगजीत सिंह की जमानत भी वापस नहीं आ पाई।

चुनाव में उतरे कम वोट पाने वाले उम्मीदवारों का लेख-जोखा
हिंदुस्तान शक्ति सेना पार्टी की तरफ से चुनावी मैदान में उतरी किरन को 515 वोट पड़े, जीरकपुर निवासी योगराज सहोता ने रेवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी की तरफ से चुनाव लड़ा। इनके हिस्से में 930 वोट आए। कुराली निवासी दीपक शर्मा भी आजाद उम्मीदवार के तौर चुनाव मैदान में उत्तरे और 1012 वोट लेने में सफल रहे। मोहाली के गांव गोबिंदगढ़ के मेघ राज भी आजाद उम्मीदवार के तौर पर चुनावी रण में उतरे लेकिन इनके खाते में 1430 वोट आए। मोहाली फेज-6 निवासी एडवोकेट कुलविंदर सिंह को 1600 वोट हासिल हुए है। वह भी आजाद उम्मीदवार के तौर पर खड़े हुए थे। मोहाली खरड़ के गांव पड़छ निवासी सुनैना भारतीय राष्ट्रीय दाल पार्टी से चुनाव लड़ी और 1640 वोट हासिल कर पाई। मोहाली जीरकपुर नाभा निवासी दलजीत सिंह साहनी ने भी भारतीय जवान किसान पार्टी के बैनर तले चुनाव लड़ा और 1715 वोट इनके खाते में आए। मोहाली के गांव जगतपुरा में रहने वाले सिंपल कुमार आजाद उम्मीदवार खड़े हुए और इन्हें 2962 वोट पड़े। डेराबस्सी निवासी लाभ सिंह पल ने आजाद उम्मीदवार पटियाला सीट के लिए लोकसभा चुनाव लड़ा और 1443 वोट हासिल कर पाए। जीरकपुर बलटाना में रहने वाले रंजीत सिंह अखिल भारतीय परिवार पार्टी की तरफ से चुनाव लड़े। इन्हें 1967 वोट डाले गए।

जमानत बचाने के लिए डाले गए मतों का 6वां भाग करना पड़ता है हासिल
उदाहरण के तौर पर जैसे किसी सीट पर यदि 1 लाख वोटिंग हुई तो जमानत बचाने के लिए प्रत्येक प्रत्याशी को छठे भाग से अधिक यानि करीब 16 हजार 666 वोटों से अधिक वोट लेनें ही होंगे। नहीं तो जमानत जब्त हो जाती है। यहां बता दें कि पटियाला सीट के लिए डेराबस्सी जीरकपुर के लोगों ने मतदान किया था और श्री आनंदपुर साहिब सीट के लिए मोहाली खरड़ के लोगों ने वोटिंग की थी। पटियाला सीट पर कुल 11 लाख 49 हजार 417 वोटिंग हुई थी। श्री आनंदपुर साहिब सीट पर 10 लाख 73 हजार 572 वोट डाले गए थे। लोकसभा चुनाव के लिए जमानत राशि 25000 रुपए है। ये फीस सामान्य वर्ग के लिए है। वहीं अनुसूचित जाति (एस.सी.) और अनुसूचित जनजाति (एस.टी.) के लिए 12,500 रुपए फीस है।